welcome to the blog

you are welcome to this blog .PLEASE VISIT UPTO END you will find answers of your jigyasa.

See Guruji giving blessings in the end

The prashna & answers are taken from Dharamdoot.




AdSense code

IPO India Information (BSE / NSE)

Wednesday, November 30, 2011

आज का जीवन सूत्र-३०-११-२०११

आज का जीवन सूत्र-३०-११-२०११
To SEE MORE POSTINGS(AAJ KA VICHAR) VISIT BLOGS 
जीवन क़ा अर्थ हे--- जाग्रृति -१ 
एक बार राह में कदम भटका ,जिंदगी भर मंजिल को तरसते रहे !
परम पूज्य सुधांशुजी महाराज

आज का जीवन सूत्र-३०-११-२०११

आज का जीवन सूत्र-३०-११-२०११
To SEE MORE POSTINGS(AAJ KA VICHAR) VISIT BLOGS 
जीवन क़ा अर्थ हे--- जाग्रृति -१ 
एक बार राह में कदम भटका ,जिंदगी भर मंजिल को तरसते रहे !
परम पूज्य सुधांशुजी महाराज

आज का विचार -30/11/11






जीवन में सफ़लता का मन्त्र है संकल्प। उन्नति की राह पर मंजिल की ओर अग्रसर होने का माध्यम है संकल्प।

परम पूज्य सुधांशुजी महाराज


 
The formula to success in life is in self -determination. The road to success & its target is achievable via this determination

 
Translated by Humble Devotee
 
 
 

Tuesday, November 29, 2011

आज का जीवन सूत्र-२९-११-२०११---गीता सार -३

आज का जीवन सूत्र-२९-११-२०११
To SEE MORE POSTINGS(AAJ KA VICHAR) VISIT ब्लोग्स 
गीता सार -३ 
परिवर्तन ही संसार क़ा नियम है !जिसे तुम म्रृत्यु समझते हो ,वही तो जीवन है !एक क्षण में तुम करोड़ों के स्वामी बन जाते हो , दूसरे ही क्षण में तुम दरिद्र हो ज़ाते हो ! मेरा-तेरा ,छोटा - बड़ा ,अपना-पराया ,मन से मिटा दो ,फिर सब तुम्हारा है ,तुम सबके 1

परम पूज्य सुधांशुजी महाराज

आज का विचार - 29/11/11



---------- Forwarded message ----------
From: vjm na <vjmna@hotmail.com>
Date: 2011/11/29
Subject: आज का विचार - 11/28/11
To: vjmna@hotmail.com


आप जिन्दगी बिताने नहीं आए, जीवन जीने के लिए है।

परम पूज्य सुधांशुजी महाराज

You have not come into this world just to pass the time but to live life.

Translated by Humbel Devotee
Praveen Verma
 
 

Monday, November 28, 2011

गीता सार -२

आज का जीवन सूत्र-२८-११-२०११
To SEE MORE POSTINGS(AAJ KA VICHAR) VISIT BLOGS 
गीता सार -२ 
तुम्हारा क्या गया ,जो तुम रोते हो ?तुम  क्या लाये थे ,जो तुम ने खो दिया ?तुमने क्या पैदा किया था ,जो नाश हो गया ?न तुम कुछ लेकर आए ,जो लिया ,यहीं से किया १ जो दिया यहीं पर दिया !जो लिया इसी (भगवान ) से लिया  ! जो दिया इसी को दिया ! खाली हाथ आए ,ओर खाली हाथ चले !जो आज तुम्हारा है , कल  किसी ओर क़ा था ! परसों किसी ओर क़ा होगा ! तुम इसे अपना समझ कर मग्न हो रहे हो ! बस यही प्रसन्नता तुम्हारे दू:खों क़ा कारण है ! 

परम पूज्य सुधांशुजी महाराज

Jeewan mein kabhi darna nahin;






28 November 08:37
Jeewan mein kabhi darna nahin;
Sir neechaa kabhi karna nahin;
Himmat wale tu sir utha kar chal;
hagwan tere saath hai har chinn har pal.



आज का विचार -28/11/11






कभी-कभी भगवान से उनके लिए भी दुआएँ माँगो जिनका आप सदा बुरा चाहते हो।
इससे आपकी सोचने की शक्ति में सुधार होगा, आत्मा भी बलवान होगी।
 
 

परम पूज्य सुधांशुजी महाराज

Sometimes seek God's blessings for those, who you do not wish well.

 

By doing this, your thinking power will improve and your soul will become strong as well.


Translated by Humbel Devotee
Praveen Verma



Sunday, November 27, 2011

Do not Interfere in others' Business unless Asked


Most of us create our own problems by interfering too often in others' affairs. We do so because somehow we have convinced ourselves that our way is the best way, our logic is the perfect logic and those who do not conform to our thinking must be criticized and steered to the right direction, our direction. This thinking denies the existence of individuality and consequently the existence of God. God has created each one of us in a unique way. No two human beings can think or act in exactly the same way. All men or women act the way they do because God within them prompts them that way. Mind your own business and you will keep your peace.

गीता---सार -१

गीता---सार -१ 
१-क्यों व्यर्थ की चिंता करते हो ? किससे डरते हो ? कौन तुम्हें मार सकता हे ? आत्मा न पैदा होती ,न मरती है !
२-जो हुआ ,वह अच्छा हुआ ,जो हो रहा है ,वह अच्छा ही हो रहा है , जो होगा , वह भी अच्छा ही होगा !तुम भूत क़ा पशचाताप न करो ! भविष्य की चिंता न करो ! वर्त्तमान चल रहा है !

आज का जीवन सूत्र-२७-११-२०११






आज का जीवन सूत्र-२७-११-२०११
To SEE MORE POSTINGS(AAJ KA VICHAR) VISIT BLOGS 
भगवान ने मनुष्य को सबकुछ देकर भी शान्ति अपने पास रख ली ! इसलिए जब व्यक्ति अशांत होता है तो शान्ति पाने के लिए भगवान् की शरण में जाता है !
परम पूज्य सुधांशुजी महाराज





आज का विचार - 27/11/11






कुछ भी हो इस बात का ध्यान रखना कि अपने अन्दर निराशा के विचार नहीं आने देना।
 
परम पूज्य सुधांशुजी महाराज

Regardless of what happens in your life, try not to let thoughts of despair enter into your mind.
 
 
Translated by Humble Devotee
Praveen Verma


 

Saturday, November 26, 2011

जिज्ञासु :-पूज्य गुरूदेव ! दु:ख-दर्द ,कष्ट-क्लेश एवं विपत्तियॉ




परम पूज्य सुधांशुजी महाराज



जिज्ञासु :-पूज्य गुरूदेव ! दु:ख-दर्द ,कष्ट-क्लेश एवं विपत्तियॉ का मूल कारण क्या है ? इनसे हमारी मुक्ति कैसे हो सकती है ?
 महाराजश्री:-दु:ख,दर्द । क्लेश , विपत्ति, व्यथा सब अज्ञान के कारण हैं ! अन्धकार से प्रकाश की ओर चलो ,मृत्यु से अमृत की ओर चलो !ईश्वर प्रेमरूप है , प्रेम की उपासना करो !दूसरों को मत देखिए कि कोई हमें पार करवा देगा !आत्मा का आत्मा से ही उद्धार कीजिए !अपना कल्याण आप ही करिये ! अपने हृदय को विशाल , उदार-उच्च और महान बना दीजिए !सब काम वैसे ही कीजिए जैसे संसार में रहने वाला व्यक्ति करता हे ! अपने चिन्तन के दृष्टिकोंण को थोडा सा विकसित कर दीजिए,कि संसार की वस्तुये आपकी वस्तु नहीं हैं ! बस आप इन क्लेशों से मुक्त हो जायेंगे ! 



आज का जीवन सूत्र-२६-११-२०११






आज का जीवन सूत्र-२६-११-२०११
To SEE MORE POSTINGS(AAJ KA VICHAR) VISIT BLOGS 
भगवान ने मनुष्य को सबकुछ देकर भी शान्ति अपने पास रख ली ! इसलिए जब व्यक्ति अशांत होता है तो शान्ति पाने के लिए भगवान् की शरण में जाता है !
परम पूज्य सुधांशुजी महाराज





आज का विचार - 26/11/11






जीवन के किसी दुःख या ठोकर से इंसान सबक ले ले तो वह ठोकर ठोकर नहीं होती। वह तो आपके लिए एक सीख बन जाती है।
 

परम पूज्य सुधांशुजी महाराज



If we learn a lesson from failure, then that failure is not a failure, but a learning opportunity.



Translated by Humble Devotee
Praveen Verma
 


Friday, November 25, 2011

आज का जीवन सूत्र-२५-११-२०११

आज का जीवन सूत्र-२५-११-२०११
To SEE MORE POSTINGS(AAJ KA VICHAR) VISIT BLOGS 
जीवन में जो भी कर्म करो ,होश में करो !क्रोध में भी अगर होश रह जाए तो  विनाश नहीं होता !

परम पूज्य सुधांशुजी महाराज

आज का विचार 25/11/11






विचारों को शुद्ध करने के लिए प्रार्थना अदभुत शक्ति है।

 

परम पूज्यसुधांशुजी महाराज

  

Prayer has an amazing power to purify the thoughts.

 

Translated by Humble Devotee

Praveen Verma

 


आज का विचार -24/11/11






अगर थोड़ा-सा भी कोई आपका भला करे तो आप कितना कितना धन्यवाद करते हें । लेकिन वह जो रात-दिन आपका भला कर रहा है, आप पर कृपा कर रहा है, क्या हम इतना-सा भी नहीं कर सकते कि सुबह शाम बैठकर हाथ जोड़कर उस दाता से कहें कि प्रभु तेरा लाख-लाख शुक्र हें । तूने हम पर बड़ी कृपा की । इतनी सभ्यता का परिचय तो कम-से-कम हमें देना चाहिए । 

परम पूज्य सुधांशुजी महाराज


If someone does even a small favor to us, we thank that person over and over. But one who constantly does favors and bestows HIS grace and kindness day and night, we should THANK that Almighty million times with folded hands and be grateful towards him. This much courtesy and decency we all should have.

 

HAPPY THANKSGIVING TO ALL FROM THE VJMNA FAMILY. LET'S MAKE A DAILY PRACTICE OF COUNTING OUR BLESSINGS.

 

Jai Sadguru !


Humble Devotee

Praveen Verma

 



आज का विचार -23/11/11






आपके हाथ में कर्म करने का पूरा पूरा अधिकार है। आप जहॉ तक हो सके उसे अच्छा बनाइए।

परम पूज्य सुधांशुजी महाराज

You have the complete right to do an action. Make your actions as good as possible.


Translated by Humble devotee
Praveen Verma



Tuesday, November 22, 2011

गोरेगाव (मुम्बई )में विराट भक्ति सत्सग


गोरेगाव (मुम्बई )में विराट भक्ति सत्सग 
 दिनांक :- 7 से 11 दिसम्बर 2011
वीनस कल्चरल एसोसिएसन , बी ,एम ,सी ,ग्राउंड ,रुस्तमजी टावर के पास ,गोरेगांव -मुलुंड् लिंक रोड, बासरी हिल , एस,व्ही रोड ,गोरेगांव (प), मुम्बई 
सत्संग कार्यक्रम 
दि:7 दिसम्बर 2011 : शाम 5 बजे से 7:30 बजे तक 
दि: 8 दिसम्बर 2011 से 10 दिसम्बर :  प्रात 9 बजे से 11:30 बजे तक और शाम 5 बजे से 7:30 बजे तक 
सौभाग्य के क्षण-मंत्र दीक्षा : दि: 10 दिसम्बर 2011 दोपहर 12 बजे 
विशेष कार्यक्रम दि :11 दिसम्बर 2011 : प्रात  :10 बजे वरदानलोक 
आश्रम ,कांजूपाडा !
समापन समारोह :दि:11 दिसम्बर 2011 :शाम 5 बजे से 7:30 बजे तक !
विशेष इस महान यज्ञ में अपनी सेवाएं देने हेतु कार्यालय से
संपर्क करे !
संपर्क :22941303 ,9969260304 ,9870402010 ,9820187423
कार्यालय :वरदानलोक आश्रम ,कांजूपाडा ,घोडबंदर -थाने रोड पोस्ट :
मीरा, जिला थाने !
निवेदक :
श्री एस एस अग्रवाल 
प्रधान 
विश्व जागृति मिशन
मुम्बई 

आज का जीवन सूत्र-२२-११-२०११

आज का जीवन सूत्र-२२-११-२०११
To SEE MORE POSTINGS(AAJ KA VICHAR) VISIT BLOGS 
ज्ञान इश्वर की ओर ले जाता है ,अज्ञान संसार की ओर लेकर  जाता हे !
परम पूज्य सुधांशुजी महाराज

Fwd: आज का विचार - 11/21/11






विचारों और भावनाओं में सन्तुलन हो तो परिवार में शान्ति और आनन्द रहता है।

परम पूज्य सुधांशुजी महाराज


When there is balance between thoughts and feelings then there is peace and bliss among families.

Translated by Humble Devotee
Praveen Verma

 

Monday, November 21, 2011

गुरुजी के आगामी कार्यक्रम

गुरुजी के आगामी कार्यक्रम 


23 से 27 नवम्बर,2011 -----------भोपाल , मध्य प्रदेश

1 से 4 दिसम्बर ,2011--------------फरीदाबाद ,हरियाणा

7 से 11 दिसम्बर,2011-------------मुम्बई ,महाराष्ट्र

                           (10 दिसम्बर,2011-पूर्णिमा दर्शन ,मुम्बई )

16 से 18 दिसम्बर 2011 ----------- कोलकाता , पश्चिम बंगाल

21 से 25 दिसम्बर 2011------------ नागपुर महाराष्ट्र

1 जनवरी 2012-------------------- नववर्ष समारोह , आनंदधाम आश्रम ,दिल्ली

जीवन सचेतना नवम्बर 2011   

आज का जीवन सूत्र-२१-११-२०११

आज का जीवन सूत्र-२१-११-२०११
To SEE MORE POSTINGS(AAJ KA VICHAR) VISIT BLOGS 
सत्संग मनोरंजन क़ा नहीं , बल्कि जीवन सुधरने क़ा साधन है !

परम पूज्य सुधांशुजी महाराज

Fwd: आज का विचार - 11/20/11






कब चुनौतियों का सामना करना पड़े, कुछ नहीं कहा जा सकता। इसलिए हर समय अपनी शक्ति को, मनोबल को, बुद्धिबल को और आत्मिकबल को बनाए रखें ।

परम पूज्य सुधांशुजी महाराज

You will never know when you are faced with challenges. So keep your moral, intellect and spiritual strength all the time.
 
Translated by Humble Devotee
Praveen Verma

 

Sunday, November 20, 2011

आज का जीवन सूत्र-२०-११-२०११

आज का जीवन सूत्र-२०-११-२०११
To SEE MORE POSTINGS(AAJ KA VICHAR) VISIT BLOGS 
अगर मनुष्य अभिमान को छोड़ दे ,तो समझो भक्ति की एक सीढ़ी पार कर गया !
परम पूज्य सुधांशुजी महाराज

आज का विचार - 20/11/11






जीवन एक ऐसी परीक्षा है कि इस परीक्षा – भवन में सब बैठते हैं, पर उत्तीर्ण नहीं हो पाते।
 

परम पूज्य सुधांशुजी महाराज


Life is akin to an exam in which everyone sits but not everyone passes.
 
 
Translated by Humble Devotee
Praveen Verma



Saturday, November 19, 2011

आज का जीवन सूत्र-१९-११-२०११

आज का जीवन सूत्र-१९-११-२०११
To SEE MORE POSTINGS(AAJ KA VICHAR) VISIT BLOGS 
सुयोग व्यक्ति के गुणों को दुनिया मरने के बाद यद् करती है !

परम पूज्य सुधांशुजी महाराज

आज का विचार - 19/11/11







सन्तोष से बड़कर सुख नहीं है। सन्तुष्ट हो जाना ही सबसे बड़ा सुख है।


परम पूज्य सुधांशुजी महाराज


There is no bigger happiness than contentment. To be content is the biggest happiness.
 
 
Humble Devotee
Praveen Verma




Friday, November 18, 2011

आज का जीवन सूत्र-१८-११-२०११

आज का जीवन सूत्र-१८-११-२०११
To SEE MORE POSTINGS(AAJ KA VICHAR) VISIT BLOGS 
प्यार से क्ष्रद्धा बढ़ती है और क्ष्रद्धा से भक्ति बढ़ती है !
परम पूज्य सुधांशुजी महाराज

आज का विचार -18/11/11






जीवन परिवर्तन का नाम है और परिवर्तन जीवन का सौंदर्य है।

परम पूज्य सुधांशुजी महाराज

 

Change is a part of life and is, in fact, the beauty of life.

 

 

Translated by Humble devotee

Praveen Verma




Thursday, November 17, 2011

आज का जीवन सूत्र-१७-११-२०११

आज का जीवन सूत्र-१७-११-२०११
To SEE MORE POSTINGS(AAJ KA VICHAR) VISIT BLOGS 
परमात्मा एक है पर उसके रूप  और  नाम  अनेक हैं  !

परम पूज्य सुधांशुजी महाराज

: आज का विचार - 17/11/11






याद रखना कि तुम भी उन्हीं हाथो से बनाए गए हो जिन हाथों से भगवान ने हिमालय बनाया, चाँद सूरज बनाया।

परम पूज्य सुधांशुजी महाराज

Remember that you are made by the hands of God; the same hands that made the mountain Himalaya, the moon and the sun.
 
 
Translated by Humble Devotee
Praveen Verma



Wednesday, November 16, 2011

Fwd: Fw: MEGA WARNING ABOUT E-VIRUS



---------- Forwarded message ----------
From: Amol Garg




Subject: Fw: MEGA WARNING ABOUT E-VIRUS



 

  

 

Subject: Better safe than sorry










 


Dave's brother is a very advanced programmer who does computer work for a living and has a high up status with Microsoft. He doesn't send these if they aren't real. If he says this is for real, it for sure is. Be aware.

VIRUS COMING !

Hi All,

I checked with Norton Anti-Virus, and they are gearing up for this virus!

I checked Snopes, and it is for real. Get this E-mail message sent around to your contacts ASAP.

PLEASE FORWARD THIS WARNING AMONG FRIENDS, FAMILY AND CONTACTS!


You should be alert during the next few days. Do not open any message with an attachment entitled POSTCARD FROM HALLMARK , regardless
of who sent it to you. It is a virus which opens A POSTCARD IMAGE, which 'burns' the whole hard disc C of your computer.

This virus will be rec eived from someone who has your e-mail address in his/her contact list. This is the reason why you need to send this e-mail to all your contacts. It is better to receive this message 25 times than to receive the virus and open it.

If you receive a mail called' POSTCARD,' even though sent to you by a friend, do not open it! Shut down your computer immediately. This is the worst virus announced by CNN.

It has been classified by Microsoft as the most destructive virus ever. This virus was discovered by McAfee yesterday, and there is no repair yet for this kind of virus. This virus simply destroys the Zero Sector of the Hard Disc, where the vital information is kept.

COPY THIS E-MAIL, AND SEND IT TO YOUR FRIENDS ..

REMEMBER: IF YOU SEND IT TO THEM, YOU WILL BENEFIT ALL OF U
=======

 


 




Go to group website <http://generalindia.groups.live.com/>
Remove me from the group mailing list <mailto:generalindia@groups.live.com?subject=UNSUBSCRIBE>




Fwd: आज का जीवन सूत्र--१६-११-२०११





आज का जीवन सूत्र-१६-११-२०११
To SEE MORE POSTINGS(AAJ KA VICHAR) VISIT BLOGS 
एक राजा टेक्स बहुत लेता था जिस की वजह से प्रजा परेशान  थी ! सब जनता ने एक महात्माजी से प्रार्थना की कि महाराज हम को इस राजा से बचाएं ! महात्मा जी उस राजा के पास गए ! राजा ने उनसे पूछा कि में आपकी क्या सेवा करूं ! महात्मा जी ने कहा महाराज एक काम करना ,यह एक मेरे पास सुईं हे ! यह आप अपने पास रख लो और मुझे मेरे मरने के बाद जब आप भी वहां आयें तो देदेना !राजा ने कहा महाराज में यह सुईं वहां कैसे ला सकता हूँ !यहाँ से तो में कुछ भी नहीं ले जा सकता !महात्मा जी बोले फिर राजन आप प्रजा से इतना टेक्स क्यों लेते हैं !राजा की समझ में यह बात आगई और उसने    टेक्स माफ  कर  दिया  और सब पैसा   प्रजा में बाँट  दिया  !


परम पूज्य सुधांशुजी महाराज


आज का विचार - 16/11/11






तुम भी भगवान की महान रचना हो, अपने आप को छोटा करके क्यों देखते हो?

परम पूज्य सुधांशुजी महाराज

You are a great creation of God. Why do you diminish that and view yourself differently ?
 
 
Translated by Humble Devotee
Praveen Verma




Monday, November 14, 2011

आज का जीवन सूत्र-१४-११-२०११

आज का जीवन सूत्र-१४-११-२०११
To SEE MORE POSTINGS(AAJ KA VICHAR) VISIT BLOGS 
परमात्मा सभी में  विराजमान  हैं ! परन्तु हम सब परमात्मा में नहीं इसी लिए दुःखी रहते हैं !
परम पूज्य सुधांशुजी महाराज

: आज का विचार - 11/11/11






यदि हम चाहते है कि हमारा मान रहे तो हमें दूसरों का भी सम्मान जरुर करना चाहिए ।
 
जैसे हमें अपना अपमान बुरा लगता है, ऐसे ही दूसरों को अपना अपमान बुरा लगता है।
 
जो हम अपने लिए चाहते है, वही व्यवहार हम दूसरों के साथ करना शुरु कर दें , इसी का नाम धर्म है।
 
परम पूज्य सुधांशुजी महाराज
 
In order to get respect, we must give respect to others. We hate when someone insults us,
the same way others also hate when they are being insulted. The way we expect others to behave with us,
we should start behaving in the same manner with others, that is RELIGION.

 
Translated by Humble Devotee
Praveen Verma

 
 

आज का विचार - 13/11/11






यदि किसी का प्रिय कार्य कर दिया है तो उसकेसम्बन्ध में मौन रहो और यदि किसी ने तुम्हारा उपकार किया है तो उसे सबके सामने प्रकट करते रहो।

परम पूज्य सुधांशुजी महाराज

Ifyou do any task which is dear to someone, remain quiet about it. And if someone does something good for you,
 
you must acknowledge that in front of everyone.
 
 
Translated by Humble Devotee
Praveen Verma


 

: आज का विचार -14/11/11






जीवन को पुरुषार्थ से अलंकृत कीजिए। परिश्रमी लोग हमेशा विजयी होते हैं ।

परम पूज्य सुधांशुजी महाराज


Enhance your life with hard work. Hard working people are always successful.


 
Translated by Humble Devotee
Praveen Verma


 

Saturday, November 12, 2011

आज का विचार 12/11/11






आत्मचिन्तनके आईने में देखते हुए अपने दुर्गुणों को दूर करें और गुणों को बढ़ाएं।

परम पूज्य सुधांशुजी महाराज

Using the mirror of self contemplation, remove your faults and increase your virtues.
 
 
Translated by Humble Devotee
Praveen Verma
 
 


Friday, November 11, 2011

Likhne wale tu hoke dayaal likhde mere hriday...



---------- Forwarded message ----------
From: Sumiti Gupta
Likhne wale tu hoke dayaal likhde mere hriday...
Sumiti Gupta 11 November 09:57
Likhne wale tu hoke dayaal likhde mere hriday under satguru ka pyaar likhdey;
maathe pe likhde naam guru ka, nainon mein unka deedar likhde;
jibhya pe likhde guru ki vaani, kaanon mein shabd jhankaar likhde;
haathon mein likhde sewa guru ki, tun mann dhan unpey vaar likhde;
pairon pe likhde jaana guru ke dwar, saraa hi jeevan unpe vaar likhde;
ek matt likhna guru ka bichudna chahe tu saara sansar likhde;
mere hriday under satguru ka pyaar likhde.



Thursday, November 10, 2011

Fwd: [GURUVANNI] आज का जीवन सूत्र १०-११-२०११



---------- Forwarded message ----------
From: Madan Gopal Garga <mggarga@gmail.com>
Date: 2011/11/10
Subject: [GURUVANNI] आज का जीवन सूत्र-११-२०११
To: mggarga@gmail.com


आज का जीवन सूत्र १०-११-२०११
To SEE MORE POSTINGS(AAJ KA VICHAR) VISIT BLOGS 

व्यक्ति सुख की खोज में अपने जीवन को  असंतुलित कर लेता है लेकिन वह यह नहीं जानता , सुख का आधार  तो संतुलित जीवन है !


परम पूज्य सुधांशुजी महाराज



--
Posted By Madan Gopal Garga to GURUVANNI at 11/10/2011 08:49:00 AM

आज का विचार - 10/11/11






अपने विस्तार की स्वंय ही कल्पना करो, जिस स्थान पर बैठना चाहते हो उसका नक्शा स्वंय बनाओ।

 

परम पूज्य सुधांशुजी महाराज


Imagine your future. Make a road map of where you want to be in the future.
 
 
Translated by Humble Devotee
Praveen Verma




आज का जीवन सूत्र-११-२०११

आज का जीवन सूत्र-११-२०११
To SEE MORE POSTINGS(AAJ KA VICHAR) VISIT BLOGS 

व्यक्ति सुख की खोज में अपने जीवन को  असंतुलित कर लेता है लेकिन वह यह नहीं जानता , सुख का आधार  तो संतुलित जीवन है !


परम पूज्य सुधांशुजी महाराज

Wednesday, November 9, 2011

Anything is possible for he who believes because





Anything is possible for he who believes...
Sumiti Gupta 09 November 01:14
Anything is possible for he who believes because
with belief comes the power that makes the impossible possible.



Distance of heart is extremely hard to remove...






Distance of heart is extremely hard to remove...
Sumiti Gupta 09 November 01:26
Distance of heart is extremely hard to remove than distance of miles. Once the distance between hearts develops it is hard to remove but the physical distances can be easily removed. So never break a heart and never distance yourself from a loving heart.
Dilon ki doori matt badana chahe insaan se doori kyon na ho.



Fwd: [Vishwa Jagriti Mission ( World Awakening Mission)] A child, who has been protected and habitually...






A child, who has been protected and habitually...
Sumiti Gupta 09 November 01:38
A child, who has been protected and habitually given whatever he wanted, would develop "entitlement mentality" and would
always put him first. He would be ignorant of his parent's efforts. When he starts work, he assumes that every person must listen
to him, and when he becomes a manager, he would never know the sufferings of his employees and would always blame others.
For this kind of people, who may be good academically, may be successful for a while, but eventually would not feel sense of
achievement. He will grumble and be full of hatred and fight for more. If we are this kind of protective parents, are we
really showing love or are we destroying the kid instead?*